• दूसरे राज्यों में फंसे छग के साढ़े 64 हजार मजदूरों को मिल रही राहत

    छत्तीसगढ़

    छत्तीसगढ़ सरकार का दावा है कि लॉकडाउन के कारण विभिन्न राज्यों में फंसे राज्य के साढ़े 64 हजार मजदूरों को राहत और मदद पहुंचाई गई है। लगभग साढ़े छह हजार मजदूरों के खातों में 19 लाख रुपये से अधिक की राशि जमा की गई है। आधिकारिक जानकारी के अनुसार, कोरोना वायरस के संक्रमण को लेकर देशव्यापी लॉकडाउन के चलते छत्तीसगढ़ के अन्य राज्यों में फंसे 64 हजार 416 श्रमिकों को भोजन, ठहरने और चिकित्सा सुविधा सहित अन्य आवश्यक व्यवस्था सुनिश्चित कर उन्हें राहत पहुंचाई गई है। इनमें से जरूरतमंद छह हजार 556 श्रमिकों के खाते में तत्कालिक व्यवस्था के लिए...

  • छग में 77 हजार लोग होम क्वारंटाइन में

    छत्तीसगढ़

    कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए छत्तीसगढ़ में लगातार एहतियाती कदम उठाए जा रहे हैं। शुरुआत में यहां कोरोना पर पूरी तरह ब्रेक लग जाने का भरोसा हो रहा था, मगर अचानक मरीजों की संख्या बढ़ने के बाद सरकार और सख्त हो गई है। यही कारण है कि 77000 लोग होम क्वारंटाइन किए गए हैं और उन पर पुलिस की निगरानी है।

    राज्य में बीते सप्ताह तक सुखद खबर आई थी कि यहां 10 कोरोना पीड़ित मिले और सभी स्वस्थ होकर घरों को लौट गए, मगर बीते कुछ दिनों में अचानक 20 से ज्यादा...

  • कई लोगों में काफी देर से दिखते हैं कोरोना के लक्षण : भूपेश बघेल

    छत्तीसगढ़

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा मुख्यमंत्रियों के साथ की गई बैठक के बाद छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आगाह किया है कि कोविड-19 के कई रोगियों में लक्षण बहुत देर से दिखाई देते हैं और यही कारण है कि वायरस को रोकने के लिए तेजी से परीक्षण की आवश्यकता है।

    एक प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ में मामलों की संख्या कम होने का कारण यह है कि राज्य में बचाव के उपाय कांग्रेस नेता राहुल गांधी द्वारा मुद्दे को उठाए जाने के बाद से ही शुरू कर दिए गए थे। उन्होंने...

  • छग में कोरोना जांच की सुविधा सिर्फ दो जगह, अब तक 2303 नमूनों की जांच

    छत्तीसगढ़

    छत्तीसगढ़ में कोरोना वायरस के संक्रमण के खिलाफ लड़ाई जारी है। यहां मरीजों की सेहत में लगातार सुधार हो रहा है, मगर यहां सिर्फ दो स्थानों पर ही कोरोना वायरस की जांच सुविधा सिर्फ दो स्थानों पर ही है। अब तक यहां 2303 लोगों के ही नमूनों की जांच हो सकी है। लगभग दो करोड़ की आबादी वाले इस राज्य में रायपुर के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान एवं जगदलपुर के स्व. श्री बलीराम कश्यप स्मृति शासकीय चिकित्सा महाविद्यालय में ही कोरोना वायरस के नमूनों की जांच की सुविधा है। यहां सोमवार तक 2303 संभावित व्यक्तियों की पहचान कर...

  • लॉकडाउन के बाद परिवहन सेवा शुरू करने से पहले ठोस इंतजाम किए जाएं : बघेल

    छत्तीसगढ़

    छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने लॉक डाउन के बाद परिवहन सेवाएं शुरू किए जाने से पहले ठोस उपाय किए जाने की मांग की है। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर कहा है कि बिना उपाय किए लॉक डाउन के बाद अंतर राज्यीय परिवहन सेवाएं शुरू किए जाने से नई कठिनाइयां बढ़ने की भी आशंका रहेगी।

    मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कोरोना वायरस महामारी की स्थिति को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखा है। उन्होंने इस पत्र में कहा है कि छत्तीसगढ़ वह राज्य है जिसने 18 मार्च को पहला मरीज मिलने पर ही 19...

  • छग में 7 मरीजों को अस्पताल से मिली छुट्टी

    छत्तीसगढ़

    देशभर में कोरोनावायरस संक्रमण के मामले बढ़ते ही जा रहे हैं, हालांकि इसी बीच छत्तीसगढ़ से सुखद खबर सामने आ रही है। यहां के एम्स अस्पताल से 10 मरीजों को पूरी तरह से स्वस्थ होने के बाद छुट्टी दे दी गई है। राज्य में अब तक 70 फीसद मरीज इस संक्रमण से उबर कर अपने घर जा चुके हैं। राज्य में वायरस से संक्र मित लोगों की कुल संख्या 10 थी। इनका इलाज एम्स में चल रहा था। इनमें से सात मरीज पूरी तरह से ठीक हो गए हैं। वहीं तीन की हालत में भी सुधार की उम्मीद...

  • छत्तीसगढ़ में कोरोना जांच केंद्र बढ़ाए जाएं : बघेल

    छत्तीसगढ़

    कोरोना वायरस के संदिग्ध मरीजों के नमूनों की छत्तीसगढ़ में समय से जांच नहीं हो पा रही है, क्योंकि यहां सिर्फ दो ही जांच केंद्र हैं। राज्य के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ़ हर्ष वर्धन को पत्र लिखकर छत्तीसगढ़ में नोवेल कोरोना वायरस टेस्टिंग के केंद्रों की संख्या में वृद्धि का आग्रह किया है। मुख्यमंत्री बघेल ने गुरुवार को केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री को पत्र लिखकर बताया कि भारत सरकार द्वारा नोवेल कोरोना वायरस के संक्रमण को राष्ट्रीय आपदा घोषित किए जाने के साथ ही छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा इसे संपूर्ण...

  • छत्तीसगढ़ में कोरोनावायरस से संक्रमण की रोकथाम के लिए शिक्षण संस्थान 31 मार्च तक बंद

    छत्तीसगढ़

     

    कोरोनावायरस से संक्रमण की रोकथाम के लिए छत्तीसगढ़ के सभी शिक्षण संस्थानों को आज से (शुक्रवार से) 31 मार्च तक के लिए बंद कर दिया गया है। राज्य सरकार की ओर जारी निर्देश के मुताबिक, कोरोनावायरस की आशंका के चलते शुक्रवार से शिक्षण संस्थान बंद कर दिए गए हैं। राज्य के समस्त शासकीय तथा निजी विद्यालयों को और स्कूल शिक्षा विभाग के अंतर्गत संचालित समस्त शिक्षण संस्थाओं तथा समस्त प्रशिक्षण संस्थानों को 31 मार्च तक के लिए तत्काल प्रभाव से बंद कर दिया गया है। इसी तरह उच्च शिक्षा विभाग ने भी निजी व...

  • कॉरोना वायरस से बचने हेतु राम-राम, पालागी और जोहार अभिवादन अपनाएं: बघेल

    छत्तीसगढ़

    रायपुर। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा, ''राम-राम, पालागी और जोहार अभिवादन की हमारी परंपराएं हैं, जो स्वास्थ्य के दृष्टिकोण से भी उपयोगी हैं। कोरोना जैसे वायरस जो हाथों का स्पर्श करने से फैलते हैं, उनसे बचने के लिए अभिवादन का यह तरीका बहुत उपयोगी है। हैंडशेक अंग्रेजों की परंपरा है। अपनी परंपरा बहुत समृद्ध है''।

    मुख्यमंत्री बघेल आज दुर्ग जिले के जामगांव एम में आयोजित छत्तीसगढ़ डड़सेना कलार समाज के कार्यक्रम को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होने कार्यक्रम में समाज के भवन के शेड के लिए 10 लाख रुपये देने की घोषणा की।

    मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर...

  • छग के मंदिरों में चढ़े फूलों से बना हर्बल गुलाल

    छत्तीसगढ़

    छत्तीसगढ़ के विभिन्न हिस्सों में इस बार की होली में हर्बल गुलाल का प्रयोग किया जाएगा। इस गुलाल को महिलाओं ने मंदिरों में चढ़ाए गए फूलों और मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को मिले गुलदस्तों के फूलों से बनाया है, जिसे लोगों के गालों पर तो लगाया ही जाएगा, साथ ही हुर्रियारे में भी उड़ाया जाएगा। राज्य के कई मंदिरों में चढ़ाए गए और मुख्यमंत्री को मिले गुलदस्तों के फूलों को जमा कर महिलाओं के स्वसहायता समूहों ने हर्बल गुलाल तैयार किया है। महिलाओं ने तैयार किए गए हर्बल गुलाल का पैकेट मुख्यमंत्री बघेल को भी सौंपा है।

Back to Top